Tajinder Pal Singh Bagga: 16 घंटे बाद हुई बग्गा की घर वापसी, टेंशन-ट्विस्ट-टकराव

Tajinder Pal Singh Bagga: 16 घंटे बाद हुई बग्गा की घर वापसी, टेंशन-ट्विस्ट-टकराव

Tajinder Pal Singh Bagga: बग्गा ने कहा जिन्हें लगता है कि पुलिस की मदद से कुछ भी कर सकते हैं तो मैं उनसे कहना चाहता हूं कि बीजेपी कार्यकर्ता किसी से नहीं डरेगा. दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और दोषियों को सजा मिलेगी.

दिल्ली बीजेपी प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा की गिरफ्तार का मामला देर रात तक गरमाया रहा. शुक्रवार सुबह करीब 8.15 बजे से शुरू हुए पकड़म-पकड़ाई के खेल में लगभग 16 घंटे बाद बग्गा की घर वापसी हो पाई. इस पूरे घटनाक्रम के बाद एक तरफ जहां तीन राज्यों की पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ बीजेपी ने आम आदमी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.    

दरअसल, शुक्रवार सुबह करीब 8.15 बजे पंजाब पुलिस ने बग्गा को जनकपुरी स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया और मोहाली की ओर निकली. लेकिन दिल्ली पुलिस के कहने पर हरियाणा के कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस के काफिले को रोक लिया गया. इस घटनाक्रम में चौंकाने वाली जानकारी तब आई जब हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने ऐलान किया कि वो बग्गा को पंजाब नहीं दिल्ली पुलिस को सौंपेंगे. ऐसा हुआ भी और हरियाणा पुलिस ने बग्गा को दिल्ली पुलिस को सौंप दिया. इसके बाद रात को ही गुरुग्राम में द्वारका कोर्ट की मजिस्ट्रेट के घर पर बग्गा की पेशी हुई. मजिस्ट्रेट के यहां से राहत मिलने और रिहाई के बाद बग्गा समर्थकों के साथ अपने घर पहुंचे. यहां बग्गा के समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया. इस दौरान दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता भी नजर आए.

वहीं, मीडिया से बातचीत में बग्गा ने कहा जिन्हें लगता है कि पुलिस की मदद से कुछ भी कर सकते हैं तो मैं उनसे कहना चाहता हूं कि बीजेपी कार्यकर्ता किसी से नहीं डरेगा. मैं हरियाणा, दिल्ली पुलिस और मेरा समर्थन करने वाले सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देता हूं. दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और दोषियों को सजा मिलेगी.

दिल्ली के बीजेपी नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को हिरासत में लेने वाली पंजाब पुलिस को हरियाणा में रोके जाने के खिलाफ पंजाब सरकार ने पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में जो अर्जी दाखिल की. उस पर पंजाब सरकार को शुक्रवार को हाई कोर्ट से कोई राहत नहीं मिल पाई है. हाईकोर्ट ने सुनवाई शनिवार तक स्थगित करते हुए इस मामले में हरियाणा सरकार और दिल्ली पुलिस को लिखित जवाब दाखिल करने के आदेश दे दिए हैं.

वहीं, बग्गा के पिता ने दिल्ली पुलिस में शिकायत की है कि कुछ लोगों ने उनके घर में घुसकर मारपीट की और बग्गा को अपने साथ ले गए. दिल्ली पुलिस ने इसी शिकायत के आधार पर पंजाब पुलिस के जवानों पर अपहरण का मामला दर्ज किया. इधर, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने इस पूरे मामले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा. आदेश गुप्ता ने कहा, तेजिंदर बग्गा पर जो कार्रवाई हुई है वो बहुत शर्मनाक है. केजरीवाल ने पंजाब पुलिस के जरिए एक बुजुर्ग व्यक्ति को पिटवाया है, उनके मुंह में कपड़ा ठूंसा गया है, अभद्रता की गई है. पंजाब पुलिस इस कदर गुंडागर्दी पर उतारू है कि उन्होंने एक सिख को अपनी पगड़ी तक भी नहीं बांधने दी. 

दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद हरियाणा पुलिस से बग्गा को ले जा रही टीम को रोकने की सिफारिश की थी. इसके बाद हरियाणा की क्राइम ब्रांच की टीम ने बग्गा को ले जा रही रही पंजाब पुलिस को कुरुक्षेत्र में रोक लिया गया. पंजाब पुलिस से पूछताछ भी की गई. उधर, बग्गा को वापस राजधानी लाने के लिए दिल्ली पुलिस भी कुरुक्षेत्र पहुंच गई. इन सबके बीच हरियाणा के गृहमंत्री के बयान से साफ हो गया है कि बग्गा को दिल्ली पुलिस को सौंपा जाएगा और हुआ भी यही. इधर, पंजाब पुलिस ने हरियाणा के DGP को चिट्ठी भेजी. इस चिट्ठी के साथ बग्गा के खिलाफ दर्ज FIR की कॉपी भी भेजी गई. पंजाब पुलिस ने अपने पत्र में कहा कि यह अपहरण का केस नहीं है. हरियाणा की पुलिस ने पंजाब टीम को बिना वजह रोका था.  

गौरतलब है कि बग्गा के खिलाफ अपराधिक मामला आम आदमी पार्टी के नेता डॉक्टर सनी सिंह की शिकायत के आधार पर दर्ज किया गया था. मामला दर्ज होने के बाद पंजाब पुलिस तेजिंदर पाल सिंह बग्गा की तलाश में थी. पंजाब पुलिस बग्गा की तलाश में पहले भी दिल्ली आई थी, लेकिन तब जवानों को बैरंग लौटना पड़ा था. तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने 'द कश्मीर फाइल्स ' फिल्म पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की टिप्पणी के बाद उन पर निशाना साधा था. बग्गा ने सीएम केजरीवाल को कश्मीरी पंडित विरोधी बताया था. इसके बाद बग्गा के खिलाफ पंजाब में FIR दर्ज कर ली गई थी.










  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 595K
    DEATHS:7,508
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 539K
    DEATHS: 6,830
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 496K
    DEATHS: 6,328
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 428K
    DEATHS: 5,615
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 394K
    DEATHS: 5,267
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED:322K
    DEATHS: 4,581
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 294K
    DEATHS: 4,473
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 239 K
    DEATHS: 4,262
  • COVID-19
     INDIA
    DETECTED: 10.1M
    DEATHS: 147 K
  • COVID-19
     GLOBAL
    DETECTED: 79.8 M
    DEATHS: 1.75 M