अपने पीछे कितनी संपत्ति छोड़ गईं ब्रिटिश क्वीन एलिजाबेथ-II, विरासत में किसे मिलेगी सारी दौलत?

अपने पीछे कितनी संपत्ति छोड़ गईं ब्रिटिश क्वीन एलिजाबेथ-II, विरासत में किसे मिलेगी सारी दौलत?

एलिजाबेथ द्वितीय 1952 में उस वक्त ब्रिटेन की महारानी बनी थीं, जब उनके पिता जॉर्ज षष्टम की मौत हो गई थी. महज 25 साल की उम्र में ब्रिटेन की महारानी का का ताज एलिजाबेथ द्वितीय के सिर पर सजा था. मौजूदा समय में 15 संप्रभु राष्ट्रों की महारानी रहीं एलिजाबेथ द्वितीय अपने पीछे अरबों की संपत्ति छोड़ गई हैं.


ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय (Queen Elizabeth II) का गुरुवार को स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में निधन हो गया. 96 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कहा. एलिजाबेथ द्वितीय 1952 में उस वक्त ब्रिटेन की महारानी बनी थीं, जब उनके पिता की जॉर्ज षष्टम की मौत हो गई थी.महज 25 साल की उम्र में ब्रिटेन की महारानी का ताज एलिजाबेथ द्वितीय के सिर पर सजा था. वे दुनिया की इकलौती ऐसी महिला थीं, जिन्हें विदेशी दौरे के लिए पासपोर्ट या वीजा की जरूरत नहीं पड़ती थी. मौजूदा समय में 15 संप्रभु राष्ट्रों की महारानी रहीं एलिजाबेथ द्वितीय (Queen Elizabeth II Net Worth) अपने पीछे अरबों की संपत्ति छोड़ गई हैं.

कितनी है महारानी की संपत्ति?
महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की नेट वर्थ को लेकर अलग-अलग रिपोर्ट्स में कई दावें किए गए हैं. Fortune के अनुसार, महारानी एलिजाबेथ द्वितीय अपने पीछे 500 मिलियन डॉलर (39,858,975,000 रुपये) की संपत्ति छोड़ गई हैं. ये संपत्ति प्रिंस चार्ल्स को किंग बनने पर विरासत में मिलेगी.

कैसे होती थी महारानी की इनकम?
ब्रिटेन के शाही परिवार को टैक्सपेयर्स की तरफ से मोटी रकम प्राप्त होती थी, जिसे सॉवरेन ग्रांट के रूप में जाना जाता है. इसे वार्षिक आधार शाही परिवार को दिया जाता है. दरअसल. इस ग्रांट की शुरुआत किंग जॉर्ज III के समय में हुई थी. उन्होंने संसद में एक एग्रिमेंट  पास किया था. इस तरह उन्होंने अपनी खुदके और भविष्य की पीढ़ियों के लिए फंड हासिल करने का रास्ता तैयार किया था. इस एग्रिमेंट को मूलरूप से सिविल लिस्ट के नाम से जाना जाता था, जिसे 2012 में सोवरेन ग्रांट से रिप्लेस कर दिया गया था.

साल 2021 और 2022 में सॉवरेन ग्रांट की राशि 86 मिलियन पाउंड से अधिक तय की गई थी. ये धनराशि आधिकारिक यात्रा, संपत्ति के रखरखाव और रानी के घर-बकिंघम  पैलेस के रखरखाव की लागत के लिए आवंटित की जाती है.
राजशाही परिवार की अचल संपत्ति
फोर्ब्स के अनुसार, राजशाही परिवार के पास 2021 तक लगभग 28 बिलियन डॉलर की अचल संपत्ति थी, जिसे बेचा नहीं जा सकता
द क्राउन एस्टेट: 19.5 बिलियन डॉलर
बकिंघम पैलेस:  4.9 बिलियन डॉलर
द डची ऑफ कॉर्नवाल: 1.3 बिलियन डॉलर
द डची ऑफ लैंकेस्टर: 748 मिलियन डॉलर
केंसिंग्टन पैलेस:  630 मिलियन डॉलर
स्कॉटलैंड का क्राउन एस्टेट: 592 मिलियन डॉलर

किसे मिलेगी महारानी की दौलत?
बिजनेस इनसाइडर के अनुसार, महारानी ने अपने निवेश, कला संग्रह, ज्वैलरी और रियल एस्टेट होल्डिंग्स से व्यक्तिगत संपत्ति में के रूप में 500 मिलियन डॉलर से अधिक की रकम जमा किए थे. इसमें सैंड्रिंघम हाउस और बाल्मोरल कैसल शामिल हैं. अब जब उनकी मृत्यु हो गई है, तो उनकी ज्यादातर निजी संपत्ति प्रिंस चार्ल्स को सौंप दी जाएगी.

बड़े बेटे चार्ल्स ने संभाली गद्दी
अब एलिजाबेथ द्वितीय के जाने के बाद उनके बड़े बेटे चार्ल्स ब्रिटेन के राजा बन गए हैं. 73 साल के चार्ल्स ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और न्यूजीलैंड 15 15 देशों के भी प्रमुख बन गए हैं. शाही परिवार के नियमों के मुताबिक चार्ल्स को ही एलिजाबेथ द्वितीय के जाने के बाद बागडोर संभालनी थी.  नियमों के मुताबिक, एलिजाबेथ के निधन के तुरंत बाद ही चार्ल्स को नया राजा घोषित कर दिया गया है. लंदन के St James's Palace  में वरिष्ठ सांसदों, सिविल सर्वेंट्स, मेयर के बीच औपचारिक तौर पर चार्ल्स को राजा बना दिया जाएगा.

  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 595K
    DEATHS:7,508
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 539K
    DEATHS: 6,830
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 496K
    DEATHS: 6,328
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 428K
    DEATHS: 5,615
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 394K
    DEATHS: 5,267
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED:322K
    DEATHS: 4,581
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 294K
    DEATHS: 4,473
  • COVID-19
     GUJARAT
    DETECTED: 239 K
    DEATHS: 4,262
  • COVID-19
     INDIA
    DETECTED: 10.1M
    DEATHS: 147 K
  • COVID-19
     GLOBAL
    DETECTED: 79.8 M
    DEATHS: 1.75 M